How To Make Romantic Trending Poetry Reels Content

How To Make Romantic Reels

उदासी पकड़ ही नहीं पाते लोग,,
इतना संभल कर मुस्कुराते हैं हम।

तुम लड़कर भी सो जाओ,,
फिर भी तुम्हारा माथा चुमूंगा।
तुम से मुहब्बत एक तरफ,,
और झगड़ा एक तरफ।।

पहले भी हथेली छोटी थी,,
अब भी ये हथेली छोटी है।
कल इससे शकर गिर जाती थी,,
अब इससे दवा गिर जाती है।।

उससे मुहब्बत कितनी गहरी है,,
ये कैसे बताऊँ यारों, बस इतना समझ लो!
वो शुरू उसकी दोस्ती से हुई है।।

How To Make Romantic Reels

तेरा बदला अब मैं दूसरों से लेता हूँ,,
जो मुझे चाहता हैं मैं उसे छोड़ देता हूँ।

नहीं हैं !!! मेरे होश ठिकाने पर ,
जब से एक हसीन नज़र से ,
जो हमें प्यार हुआ है ।
बिन काटे ही बह रहा है लहू
उनकी निगाहों के खंजर से हम पर वार जो हुआ है ।। खींच रहे हैं हमको अपनी तरफ !!
ये उनकी नशीली निगाहें , गुलाबी गाल ,,
पंखुड़ियों जैसे होठ और सुनहरे बाल ।
ये पागल कर देने वाली अदाएं ,,
और उनकी वो मस्तानी चाल ।।

मीलों का सफ़र पल में बर्बाद कर गया ,
उसका ये कहना कहो कैसे आना हुआ !

जिस दिन सोचते हैं हम पूरी बात करेंगे ,
झगड़ा भी कहता है हम भी आज़ ही करेंगे .. ! !

बिछड़ी हुई राहों से जब कभी गुज़रे हम ,
हर एक कदम पे तेरी बहुत याद आई है !

उम्र नहीं थी इश्क़ करने की ,
बस एक चेहरा देखा और गुनाह कर बैठे .. !!

तेरे ना होने से बस इतनी कमी सी रहती है ,
मैं लाख मुस्कुराऊँ आँखों में नमी सी रहती है।

तुम्हारे सिवा ना कोई आया है और ना कोई आयेगा ,
हमें तुमसे कितना प्यार है ये गूगल भी नहीं बता पाएगा … ! !

ठहर गए है एक तेरे दर पर आकर ,
जैसे कोई बेघर हो घर पर आकर !

ऐसे ही नहीं बन गये गैरों से गहरे रिश्ते,,
कुछ खालीपन अपनों ने ही दिया होता है !

Trending poetry Romantic Reels

मौसम ही बदल चूका था यारों उसे तैयार करते करते,,
मुद्दतें लग गयीं थीं ख्वाबों का स्वेटर बुनने में।

एक दिन दुनिया में बंदूकों से ज़्यादा प्रेमपत्र होंगे ।
राजनेताओं से ज़्यादा कवि होंगे ।
तब युद्ध के सारे ऐलान,,
चुम्बनों की आवाज़ों के तले दम तोड़ देंगे ।।

जिसको इश्क़ हो जाए,भला कैसे वो सोएगा,,
कभी मुस्काएगा छुप-छुप , कभी तकिया भिगोएगा।
बड़े नादान हो तुम तो, जरा बातों को समझा करो,,
जो गले मिलकर भी रोता है, वो बिछड़ कर कितना रोएगा।।

तेरे बग़ैर ही अच्छे थे क्या मुसीबत है,,
ये कैसा प्यार है , हर दिन जताना पड़ता है।

मैं आज भी उस तरफ पीठ करके नहीं सोता,,
जिस तरफ तुम्हारा चेहरा हुआ करता था।
तुम्हारे होने का एहसास लगा रहता है,,
गर्म होठो के लगे लिपस्टिक के भुखार में तपता तकिया रहता है ।।
तुम्हारे होने का अहसास … लगा रहता है !

हम उतने अलग हैं,, जितना नहीं होना चाहिए,,,
अपना ना लगे,, अपना ऐसा नहीं होना चाहिए।
अगर मैं आँसुओ से करता हूँ खुशिया बयाँ,,
तो मेरा तौर तरीका एक मसला नहीं होना चाहिए।।

तुम मेरी वो मुस्कान हो ,
जिसे देखकर माँ को मुझ पर शक होता है,,

हम समझदार भी इतने हैं उसका झूठ पकड़ लेते हैं,,
और उसके दीवाने भी इतने हैं फिर यकीन कर लेते हैं।।

परीक्षा में आए मुश्किल सवाल जैसा हूँ मैं,,
हर किसी ने बिना समझे ही छोड़ा है मुझे

मुहब्बत की है तुमसे बेफिक्र रहो,,
नाराजगी हो सकती है, पर नफरत कभी नहीं होगी।।

आखिर लोग ऐसे क्यों होते हैं,,
जब उन्हें अपने मतलब की बात करनी होती है।
तो वह कितने अच्छे से बात करते हैं,,
और जब मतलब नहीं होता है।।
तो अंदाज ही बदल लेते हैं!!!

प्यार तो आज भी उससे उतना ही है,,
पर उसको कदर नहीं तो हमने एहसास दिलाना छोड़ दिया।।

How To Make Romantic Reels

मेरा तुमसे मिलने का इरादा हो गया है,,
अब सब्र नहीं होगा, तुमसे इश्क ज्यादा हो गया है।

हम बहुत हँसते थे,,
ज़िन्दगी ने आज रोना सिखा दिया।
सबके साथ बैठना अच्छा लगता था,,
आज अकेला रहना सिखा दिया।।
बातें करने का शौक तो बहुत था,,
पर ज़िन्दगी ने आज चुप रहना सिखा दिया,,!

बेबसी क्या होती है,,
ये उस इंसान से पूछो।
जो किसी को खो भी नहीं सकता,,
और उसका हो भी नहीं सकता।।

पसंद नहीं मुझे मोहब्बत में मिलावट,,
अगर वो मेरा है तो ख्वाब भी मेरे देखे।

मुझको पढ़ पाना हर किसी के लिए मुमकिन नहीं,,
मैं वो किताब हूँ जिसमे शब्दों की जगह जज्बात लिखे हैं।

कभी कभी खुद की बहुत याद आती है,,
कितना खुश रहा करता था मैं।
तुमसे मिलने से पहले … !!

कदर और वक़्त भी कमाल के होते हैं,,
जिसकी कदर करो , वो वक़्त नहीं देता।
जिसको वक़्त दो , वो कदर नहीं करता !!

यही फितरत है इंसानो की,,
मुहब्बत ना मिले तो सब्र नहीं करते।
और मिल जाए तो कद्र नहीं करते .. ।

जब लड़की साथ देती है,,
तो लड़का धोखा देता है।
जब लड़का साथ देता है,,
तो लड़की धोखा देती है।।
जब दोनों साथ देते हैं,,
तो क़िस्मत धोखा देती है।

थोड़ी सी रौशनी मांगी थी जिंदगी में,,
चाहने वालों ने आग ही लगा दी।

उसे सिर्फ बातें करनी थी,,
और हम मुहब्बत कर बैठे।

यकीन था भूल जाओगे एक दिन,,
खुशी हुई उम्मीद पर पूरे उतरे ।

कुछ अधूरापन था जो पूरा हुआ ही नहीं,,
कोई था मेरा, जो कभी मेरा हुआ ही नहीं ।

आपको पता है ?
इंसान की आधी मौत तो उसी दिन हो जाती है,,
जब उसका मनपसंद शख्स उसे छोड़ जाता है ।

कुछ तो खास है ,,,
तुम्हारी इस मधुर आवाज में ।
तुम्हें सुने बगैर मेरे दिल को ,,
आजकल सुकून नही मिलता ।।

poetry Romantic Reels

अब आदत सी हो गयी है,,
ऐसे साथ ही अब करवट बदलना।
साथ ही गीर कर संभालना,,
साथ ही चलना और साथ ही थम जाना।।
अब आदत सी हो गयी है,,
कभी रूठना कभी मनाना।
एक ही रंग में रंग जाना,,
कुछ भी कहे अब जमाना।।
पर अब आदत सी हो गयी है ….

तुम हो हर बात में, मेरे दिन रात में!
मेरे लिए पाना भी तुम, मेरे लिए खोना भी तुम,,
मेरे लिए हंसना भी तुम , मेरे लिए रोना भी तुम।
जाऊ कही देखूं कही , तुम हो वहा तुम हों वही,,
कैसे बताऊं तुम्हें , तुम बिन तो मैं कुछ भी नही।।

वो बदल गए,,
इसमें उनकी गलती क्या।
शायद कुछ गलतियां हमसे हुईं,,
इसिलये हमें नजरअंदाज होना ही था ।।

Romantic

Here you find more Quote stuff on this page  Like How To Make Romantic Trending Poetry Reels Content which you love to Read you love to Read.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.