यादें “The Memories”( A true partner of life)

यादें "The Memories"
यादें “The Memories”

यादें “Memories” – ये वो शब्द है, जो हमें जीने का एक जरिया देता है। कुछ यादगार करने का नजरिया देता है।
वैसे तो यादें कई प्रकार की होती हैं, किसी की आंखों को दर्द से भिगोती हैं, तो किसी की आंखों में चैन से सोती हैं।


किसी की खट्टी होती हैं, तो किसी की मीठी होती हैं।
मगर हर पहलू में बस यादें होती हैं। ये यादे हम बचपन से संजोते हैं।
अपने परिवार के साथ बिताए हर पल को हम अपने मन में सँजो कर रखते हैं।
यादों के कुछ हिस्सों में,
हम अपने जीवन में कुछ पल के लिए आये हुए उन लोगों को भी रखते हैं
जिनको हम अपने मित्र बनाते है। हम सब जानते हैं,एक दिन हमारे पास कुछ नहीं बचता।

यादें "The Memories"


जीवन मे हम जो कमाते हैं,चाहे वो कुछ भी हो।
वो सब एक दिन छूट ही जाता है, फिर वो कोई वस्तु हो या कोई व्यक्ति हो।
एक दिन हर रिश्ता दूर हो ही जाता है।
जिंदगी के अलग अलग मोड़ पर अगल अगल रिश्ते हमें अकेला छोड़ ही जाते हैं।
और फिर अंत मे हमारे पास सिर्फ दो ही चीजें रह जाती हैं।
यादें और उनमें हुई वो खट्टी मीठी बातें। जो कभी हमें हँसाती हैं, तो कभी रुलाती हैं।
मगर कुछ भी हो, हमारी यादें जीवन भर हमारा साथ निभाती हैं।
इन्हीं यादों को लेकर कुछ शब्द लिखे हैं, आशा है आपको पसन्द आएं औए आपकी कुछ यादें ताज़ा करें।

यादें “The Memories

दिल के एक कोने में याद दबी है,,,
जैसे, राख के ढेर मैं आग दबी है…
क्या, तुम सच में मेरे थे,,,,
या सब धोखा था, मेरी आँखों का…
तेरे अधूरे वादों में, मेरी औकात दबी है,,,
आज भी दिल के एक कोने में ये याद दबी है…
कुछ जज्बात थे रोशन से मेरे,,,
रहना चाहते थे, जो संग तेरे…
मन के रोशन बाग में कर के अंधेरे
तूने भी बदल लिए अपने चेहरे,,,
तुम नहीं हो नजदीक मेरे, गैरों ने बात कही है,,
नाराजगी तुझसे नहीं खुद से है, मेरी…
क्योंकि मेरे मन आज भी तेरी छवी है,,
आज भी दिल के एक कोने में ये याद दबी है…

Here you find more stuff on this page which you love to Read

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.